उत्तराखंडदेशदेहरादून

Big Debate::बनभूलपुरा खूनी दंगा!प्रशासनिक नासमझी-ख़ुफ़िया एजेंसियों की नाकामी का अंजाम!सोया था IB-LIU-Special Branch-MI-RaAW!Mastermind कौन?

खबर को सुने

दंगाइयों की इतनी बड़ी तैयारी और भनक तक नहीं!अवैध मदरसे पर UCC कानून के अगले ही दिन बिना तैयारी Action जल्दबाजी!

Chetan Gurung

नैनीताल के सबसे बड़े शहर हल्द्वानी के बनभूलपुरा में भीषण खूनी दंगों ने बड़ी प्रशासनिक-ख़ुफ़िया नाकामियों का खुलासा कर दिया. Uniform Civil Code लागू होने के अगले दिन ही अवैध मदरसे पर Action को जल्दबाजी माना जा रहा है.दंगाइयों की तैयारियों के बारे में भनक तक न होना हैरान करता है.CM पुष्कर सिंह धामी इस मामले में जल्द कोई बड़ा कदम उठा सकते हैं.दंगों में कई मौतों की खबर है.

CM पुष्कर सिंह धामी बनभूलपुरा दंगों पर खफा हैं और जल्द जिम्मेदारों पर कार्रवाई कर सकते हैं!

थाना-गाड़ियों को फूंक दिया जाना-SDM-महिला पुलिसकर्मियों तक पर खूनी हमला-दंगाइयों का असलहे-पत्थरों का जमावड़ा करना-हिंसक विरोध के लिए पुरुष-महिलाओं-बच्चों तक का भारी तादाद में इकठ्ठा होना, अचानक नहीं हो सकता है.इतनी बड़ी साजिश को अंजाम देने के लिए काफी तैयारियों की जरूरत पड़ी होगी.कोई न कोई Mastermind जरूर होगा.

प्रशासन-पुलिस और ख़ुफ़िया एजेंसियां कैसे इस सबसे अनजान रहीं?तीनों के पास कुछ Inputs थे तो फिर दंगा-बवाल कैसे हो गया?अवैध मदरसे को हटाने और उसको ध्वस्त करने के नोटिस के बाद ख़ुफ़िया एजेंसियों और प्रशासन-पुलिस को Extra सतर्क रहना चाहिए था.दंगों ने साबित कर दिया कि ऐसा कुछ नहीं किया गया.

UCC सभी धर्मों और समुदाय-पंथ के लिए है.इसके बावजूद ये माना जा रहा था कि एक खास समुदाय इससे नाखुश हो सकता है या संतुष्ट नहीं होगा.नैनीताल प्रशासन अवैध मदरसा हटाने के लिए थोड़ा इन्तजार करता या पूरी तैयारी के साथ कार्रवाई की जाती तो ऐसे हालात पैदा न होते.ऐसा अनुभवी अफसरों का मानना है.

चीन से हवाई दूरी बहुत कम होने और बगल में नेपाल की एक किस्म से खुली सीमा के चलते इस शहर में केंद्र की सभी बड़ी और अहम ख़ुफ़िया एजेंसियों (IB-रॉ),Military Intelligence-राज्य की LIU-Special Branch की मौजूदगी रहती है.उनमें से किसी के पास इतनी बड़ी साजिश की जानकारी नहीं थी!

सवाल उठाया जा सकता है कि ऐसी कार्रवाई से पहले क्यों पर्याप्त पुलिस बल नहीं जुटाया गया?क्यों पुलिस और अतिक्रमण हटाने गए कर्मचारियों की सुरक्षा के लिए Body Protector के पर्याप्त बंदोबस्त नहीं किए गए?एक बड़े अफसर के मुताबिक UCC कानून विधानसभा में पास होने के अगले दिन ही प्रशासन की ऐसी जल्दबाजी उसकी नासमझी और अनुभवहीनता को जाहिर करता है.

UCC लागू कर देश और विदेश में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी सुर्ख़ियों में हैं.उनका अभिनन्दन-स्वागत का दौर शुरू हो गया है.ऐसे वक्त बनभूलपूरा दंगों और नैनीताल प्रशासन की नाकामी से मुख्यमंत्री बेहद खफा माने जा रहे हैं.उन्होंने मुख्य सचिव राधा रतूड़ी और DGP अभिनव कुमार के साथ ही ADGP (कानून-व्यवस्था) अजय प्रकाश अंशुमन को फ़ौरन तलब किया.

तीनों को जल्द से जल्द हालात सामान्य करने के लिए जरूरी और कठोर कार्रवाई की हिदायत दी.उनके निर्देश पर CS-DGP आज बनभूलपुरा का दौरा करने जाएंगे.अन्दर की खबर है कि CM जल्द कुछ बड़े कदम उठा सकते हैं.कुछ अफसर उनकी नाराजगी की भेंट चढ़ सकते हैं.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button