अंतर्राष्ट्रीयउत्तराखंडदेशदेहरादूनयूथराजनीति

Biggest Breaking of the Century!!हमारे प्रभु राम आ गए:500 साल बाद भव्य राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा:`राम लला टेंट में नहीं..दिव्य मंदिर में रहेंगे-PM मोदी’:CM पुष्कर देहरादून में टपकेश्वर मंदिर में सपरिवार बने ऐतिहासिक पल के साक्षी:पूजा-अर्चना कर खुद भी दिया योगदान

खबर को सुने

नामचीन Celebrities संग प्रमुख संत-गुरु भी बने साक्षी :राजधानी समेत पूरे उत्तराखंड में अभूतपूर्व उत्साह-ख़ुशी का माहौल:आतिशबाजी-बधाइयां

Chetan Gurung

प्रभु राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा और पूजा करते PM नरेंद्र मोदी और RSS प्रमुख मोहन भागवत

अयोध्या में आज PM नरेंद्र मोदी के हाथों भव्य राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा के साथ ही राजा राम टैंट से अपनी सही जगह स्थापित हो गए.मोदी ने कहा,`हमारे प्रभु राम आ गए.हजार साल बाद भी आज की तारीख और पल की चर्चा होगी.ये हम सभी का विलक्षण पल है कि इतिहास बनते हम साक्षात देख रहे हैं’.देहरादून में CM पुष्कर सिंह धामी ने भी टपकेश्वर मंदिर में सपरिवार पूजा-अर्चना कर प्राण-प्रतिष्ठा समारोह में अपना योगदान दिया.

प्रधानमंत्री ने कहा कि ये सामान्य समय नहीं.जहाँ राम का काम होता है,वहां पवन पुत्र हनुमान भी होते हैं.उनको और माता सीता और पावन सरयू को भी नमन करता हूँ.प्रभु श्री राम से क्षमा याचना करता हूँ कि हमारे पुरुषार्थ-त्याग तपस्या में कुछ तो कमी रह गई होगी कि सदियों तक हम ये कार्य नहीं कर पाए.आज वह कमी पूरी हुई.विश्वास है कि आज प्रभु राम हमको अवश्य क्षमा करेंगे.

CM पुष्कर सिंह धामी ने पत्नी गीता और दोनों बेटों के साथ प्राण प्रतिष्ठा के दौरान टपकेश्वर मंदिर में पूजा-अर्चना की

उन्होंने कहा कि लम्बे काल खंड से जो आपत्ति-वियोग था वह आज ख़त्म हो गया.अयोध्या के लोगों और कई पीढ़ियों ने सैकड़ों सालों का वियोग सहा है.आभार भारतीय न्याय पालिका का कि उसने न्याय की लाज रख ली.प्रभु राम का मंदिर भी न्याय के साथ बना.पूरा देश आज दीपावली मना रहा है.अब कालचक्र फिर बदलेगा.मुझे सागर से सरयू तक यात्रा का अवसर मिला.राम भारतवासियों के मन में बसे हुए हैं.

ऋतंभरा
बाबा रामदेव
चिदानंद मुनि
बाबा बागेश्वर

PM मोदी ने कहा कि हर युग में लोगों ने राम को जिया है.अपने शब्दों में अपने तरीके से राम को अभिव्यक्त किया है.जीवन में राम रस की तरफ पिया है.राम के आदर्श-मूल्य-शिक्षा सभी जगह एक समान है.अनगिनत कार सेवकों-संतों-महात्माओं के ऋणी हैं आज.विजय के साथ ही विनय का भी अवसर है.राम मंदिर धैर्य-आपसी सद्भाव का भी प्रतीक है.राम आग नहीं ऊर्जा है.राम समाधान है.राम सबके हैं.राष्ट्र चेतना का मंदिर है.भारत का विचार और विधान है.

फिल्म वाले भी पहुंचे

प्राण प्रतिष्ठा के दौरान RSS प्रमुख मोहन भागवत,UP के CM योगी आदित्यनाथ और देश के कोने-कोने से पहुंचे बड़े ऋषि-संतों-साध्वियों-धर्म गुरुओं की भी उपस्थिति रही.बड़े-बड़े और नामचीन Celebirity, जिनमें दिग्गज खिलाड़ी और फिल्म तथा ग्लैमर की दुनिया से जुड़े लोग थे, भी इस अविस्मरणीय पल के गवाह बने.प्रधानमंत्री ने पूरी तरह दंडवत हो के रामलला की पूजा-अर्चना की.

बाल राम की प्रतिमा की स्थापना और प्रतिष्ठा के दौरान देश के साथ ही दुनिया के सभी हिस्सों में मौजूद हिन्दू धर्मावलम्बियों में भी जबरदस्त उत्साह दिखाई दिया.CM पुष्कर सिंह धामी भी सुबह ही प्राण प्रतिष्ठा आयोजन से पहले टपकेश्वर मंदिर पहुंचे और सपरिवार पूजा-पाठ-ध्यान-हवन में शामिल हुए.उनके साथ पत्नी गीता और दोनों बेटे तथा BJP के महानगर अध्यक्ष सिद्धार्थ अग्रवाल-दायित्वधारी मधु भट्ट और कई अन्य भी थे.मुख्यमंत्री ने शिवलिंग पर जल भी अर्पित किया.राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा शुरू हुई तो फिर वह TV पर प्रधानमंत्री मोदी को परंपरा निभाते LIVE देखने आखिर तक बैठे.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button