अंतर्राष्ट्रीयउत्तराखंडदेशदेहरादूनयूथ

Graphic Era का झंडा South America की सबसे ऊंची पर्वत चोटी पर फहरा:राजेंद्रनाथ ने फतह किया माउन्ट एकोंकागुआ:GEGI के प्रमुख डॉ कमल घनशाला ने बधाई देते हुए कहा,`उत्तराखंड प्रतिभाओं का समुद्र है’

खबर को सुने

Chetan Gurung

राजेंद्र सिंह नाथ पर्वत चोटी पर ग्राफ़िक एरा का झंडा फहराते हुए

उच्च-तकनीकी और चिकित्सा शिक्षा में देश के शीर्ष विश्वविद्यालयों में तेजी से शुमार हो रहे Graphic Era का झंडा पर्वतारोही राजेंद्र सिंह नाथ ने दूसरी बार माउंट एकोंकागुआ को फतह कर फहरा दिया.Graphic Era Group of Institutions के Chairman प्रो कमल घनशाला ने राजेंद्र को उनकी उपलब्धि पर बधाई देते हुए कहा कि उत्तराखंड में प्रतिभाओं का समंदर है.उनको तलाश के निखारते हुए मौका देने की जरूरत है.

SDRF के जवान राजेंद्र ने 2 फरवरी को यह कीर्तिमान बनाया। माउंट एकोंकागुआ को दूसरी बार फतह करने वाले वह देश के पहले पुलिस के जवान हैं.ये पर्वत शिखर अर्जेंटीना में है.दक्षिण अमेरिका महाद्वीप की सबसे ऊंची चोटी है। 6961 मीटर की ऊंचाई पर स्थित इस चोटी को नाथ ने दो दिन में फतह किया।

Pro Kamal Ghanshala

राजेंद्र ने पर्वत शिखर पर पहुंचकर राष्ट्रीय ध्वज व उत्तराखंड के ध्वज के साथ ही ग्राफिक एरा का झंडा फहराया। उनका ये अभियान इस लिए बहुत अहम है कि उन्होंने तेज बर्फीली हवाओं और कठिन चुनौतियों का सामना करते हुए ये सफलता हासिल की.

नाथ ने पहले भी कई उपलब्धियां अपने नाम दर्ज की हैं। वह यूरोप महाद्वीप और अफ्रीका महाद्वीप की सबसे ऊंची चोटियों माउंट एलब्रुस और माउंट किलिमंजारो को दो बार फतेह कर वहां भी ग्राफिक एरा का झंडा फहरा चुके हैं.
ग्राफिक एरा ग्रुप आफ इंस्टीट्यूशंस के चेयरमैन डॉ. कमल घनशाला ने इस शानदार उपलब्धि पर राजेंद्र को बधाई दी.उन्होंने कहा कि उनकी सफलता ने देश, राज्य और पुलिस के साथ ही ग्राफिक एरा का गौरव बढ़ाया है। डॉ. घनशाला ने कहा कि वीर भूमि कहलाने वाले उत्तराखंड प्रतिभाओं का समुद्र है.यहाँ कई प्रतिभाएं हैं,जिन पर देश गर्व  कर सकता है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button